Modern Naturopathy   Nature is the world's best doctor

1st Choice to take care of health....

FDA Required Disclaimer: No claims are made regarding the therapeutic use of any therapies.These products are not intended to diagnose, treat, cure or prevent any disease. This web site is for educational purposes only. It is not intended as a substitute for the diagnosis, treatment. This site provides medical information and alternative medical options. In no way, should anyone consider the information on this website, representing the “practice of medicine”. This site assumes no responsibility for how this website information is used. This website frequently updates its contents as required. The statements regarding alternative treatments are based on personal experience & it can be varied person to person and not evaluated by the FDA.

CORONA Virus Attack Protection

Coronaviruses (CoV)

As per WHO : 

Coronaviruses (CoV) are a large family of viruses that cause illness ranging from the common cold to more severe diseases such as Middle East Respiratory Syndrome (MERS-CoV) and Severe Acute Respiratory Syndrome (SARS-CoV)A novel coronavirus (nCoV) is a new strain that has not been previously identified in humans.  

Coronaviruses are zoonotic, meaning they are transmitted between animals and people.  Detailed investigations found that SARS-CoV was transmitted from civet cats to humans and MERS-CoV from dromedary camels to humans. Several known coronaviruses are circulating in animals that have not yet infected humans. 

Common signs of infection include respiratory symptoms, fever, cough, shortness of breath and breathing difficulties. In more severe cases, infection can cause pneumonia, severe acute respiratory syndrome, kidney failure and even death. 

Standard recommendations to prevent infection spread include regular hand washing, covering mouth and nose when coughing and sneezing, thoroughly cooking meat and eggs. Avoid close contact with anyone showing symptoms of respiratory illness such as coughing and sneezing.

Cororna Virus before it reaches the lungs it remains in the throat for four days approximately and at this time the person begins to cough and have throat pains.If he drinks look warm water a lot and gargling with warm water, turmeric powder & salt or vinegar eliminates the virus. Spread this information because you can save someone with this information.

BUY OXIMETER WITH WARRANTY MADE IN INDIA CLICK HERE

घर में जरूर रखें पल्स ऑक्सीमीटर
अमेरिका के हेल्थ एक्सपर्ट ने कोविड -19 महामारी के दौरान लोगों को अपने घरों में एक पल्स ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर रखने की सलाह दी है। डॉक्टरों के मुताबिक, जानिए पल्स ऑक्सीमीटर कैसे काम करता है ? इसके द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आपको क्या करना चाहिए ?

पल्स ऑक्सीमीटर क्या है?
एक पल्स ऑक्सीमीटर एक छोटा डिवाइस है। जो कि चिप क्लिप या बड़े कपड़ों की पिन की तरह दिखता है। इसे ऊंगली में क्लिप की तरह फंसाया जाता है। इसके बाद इसमें लगे सेंसर ये पता लगा पाते हैं कि खून में ऑक्सीजन का प्रवाह कैसा है। इसकी रीडिंग ऑक्सीमीटर की डिजिटल स्क्रीन पर दिखती है। स्क्रीन पर 95 से 100 के आसपास डिजिट दिखे तो ये सामान्य है। वहीं, सांस से जुड़ी समस्या वाले मरीजों में ये संख्या काफी कम हो सकती है। अगर ऑक्सीजन रीडिंग 92 या उससे कम दिखाएं तब आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। यह डिवाइस आपके हर्ट रेट को भी दिखाएगा। वयस्कों में सामान्य हर्ट रेट लगभग 60 से 100 बीट प्रति मिनट तक होती है, हालांकि उच्च हृदय फिटनेस वाले एथलीटों में कम पल्स होगा।

डॉ रिचर्ड लेविटन के मुताबिक, पल्स ऑक्सीमीटर में रीडिंग देखने के लिए घर के किसी अन्य सदस्य की मदद लेनी चाहिए। क्योंकि कई बार हम खुद से देखते हैं तो उल्टा रीडिंग कर लेते हैं और घबरा जाते हैं। हो सकता है आप 98 की जगह 89 पढ़ लें जो कि काफी खतरनाक स्तर माना जाता है।

कैसे काम करता है पल्स ऑक्सीमीटर?
जब आप अपनी उंगली को पल्स ऑक्सीमीटर में डालते हैं तो यह आपकी उंगली के माध्यम से प्रकाश के विभिन्न तरंगों से होते हुए गुजरता है। हालांकि आप इसे महसूस नहीं कर पाएंगे। यह आपके हीमोग्लोबिन को टारगेट कर आपके ब्लड में मौजूद प्रोटीन के अणु से ऑक्सीजन लेवल का पता लगाता है। यह अलग-अलग मात्रा में हीमोग्लोबिन को ऑब्जर्व करता है और आपके ब्लड में ऑक्सीजन सैच्युरेशन के लेवल को इंडिगेट करता है। पल्स ऑक्सीमीटर आपको एक संख्यात्मक (नंबर में) रीडिंग देता है। अगर आप डॉक्टर के पास गए हैं तो आपने पल्स ऑक्सीमेट्री का अनुभव जरूर किया होगा। बता दें कि यह डिवाइस ठंडे हाथों की तुलना में गर्म हाथों से बेहतर काम करता है क्योंकि ऑक्सीजन लेवल में उतार-चढ़ाव होता रहता है इसलिए दिन में दो तीन बार माप लेना चाहिए। आप अलग-अलग पोजीशन में भी माप ले सकते हैं जैसे कि आपकी पीठ के बल लेटते समय या चलते समय। जरूरत पड़ने पर आप इसे नोट करते जाएं और फिर बाद में इसे डॉक्टर से शेयर कर सकते हैं।

किस उंगली का उपयोग करें?
अधिकांश स्वास्थ्य तकनीशियन के मुताबिक तर्जनी उंगली सटीक माप देता है। हालांकि एक अध्ययन के मुताबिक, इसके लिए हाथ के तीसरी उंगली को ज्यादा बेहतर बताया गया है। अगर आप पल्स ऑक्सीमीटर से माप के लिए दाएं हाथ का इस्तेमाल करते हैं तो दाईं मध्यमा उंगली का उपयोग करें। अगर आप बाएं हाथ का इस्तेमाल करते हैं तो बाईं मध्यमा उंगली का उपयोग करें। वैसे ज्यादातर डॉक्टर पल्स ऑक्सीमीटर के लिए तर्जनी उंगली का इस्तेमाल करते हैं।

क्या लंबे नाखून या नेल पॉलिश से फर्क पड़ता है?
हां। डार्क नेल पॉलिश का सटीक रीडिंग पर प्रभाव पड़ता है। कई बार डार्क नेल पॉलिश होने की वजह से ठीक से डिवाइस ठीक से रीडिंग नहीं कर पाता है। डार्क नेल पॉलिश के अलावा लंबे नाखून से भी फर्क पड़ता है। उंगली सही से क्लिप में नहीं लगने के कारण सटीक जानकारी नहीं मिलती है।

पहले ही दे देता है संकेत
पल्स ऑक्सीमीटर इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि इसकी मदद से कोई लक्षण दिखने से पहले भी पता चल जाता है कि कोरोना मरीज के फेफड़ों पर क्या असर डाल रहा है। सांस फूलना या होंठों-ऊंगलियों में नीलापन आना काफी बाद में शुरू होता है। इससे पहले ये उपकरण हालात बता देगा और मरीज पहले ही अस्पताल पहुंच सकेगा। इससे कोरोना के कारण होने वाली मौतों की दर कम की जा सकती है।

क्या घर पर ऑक्सीजन लेवल की निगरानी करना जोखिम है?
यह संभव है कि होम मॉनिटर एक गलत रीडिंग दे सकता है या गलत तरीके से उपयोग किया जा सकता है। यदि आपके घर में कोई व्यक्ति रीडिंग कर रहा है तो इसे सुनिश्चित करने के लिए एक स्वस्थ व्यक्ति पर अपने उपकरण का परीक्षण कर सकते हैं। इस पर आप अपने चिकित्सक से चर्चा करें। कोरोना के जिन मरीजों का इलाज घर पर ही हो रहा हो, वे यह कर सकते हैं कि पहली बार पल्स ऑक्सीमीटर लेने पर प्रारंभिक रीडिंग लेकर जांच लें कि उनका सामान्य स्तर क्या है। इसके बाद हर कुछ घंटों पर पल्स चेक की जानी चाहिए ताकि पैटर्न समझ आ सके।

Just Follow the Following Instructions as given in Below Image to improve your immune system for children and elders.

Corona Virus Simple Prevention Method For Kids by Modern Naturopathy, Please Click Here to Watch This Video.

Self Testimonial of Naturopathy Treatment

by Certified Naturopath (Prakrutik Chikistak)

See How He Kept His Family Safe

While CORONA Positive Patients Around

डर सबको लगता है | 10 भयानक दिन

CORONA POSITIVE PADOSI KE SATH

BUY NOW CLICK HERE

 Naturopathy Treatment By

Santosh Ambekar (B.Sc, N.D)

Naturopathy Practitioner

To Prevent CORONA VIRUS INFECTION

BUY NOW - CLICK HERE

  1. 1) Boost Your Immunity with Super Food, Fresh Fruits & Vegetables Juices or Drug-Free certified Juice Therapy & Modern Naturopathy Guidelines, Please watch Video for 3 Days Any Fever Cure

  2. Click Here to Watch Video

  3. Why This Juice Therapy? How It works on Whole Body Systems? To Know Please Click Here

  4. Asali Desi Ghee ( Ghee Made From 32 Litre Milk of Desi Cow (Gir Cow, Sahiwal Cow etc.) 

  5. Strengthens immunity and helps in bone development: As kids, we were given a spoonful of desi ghee daily to boost our immunity and make our bones strong. Desi ghee acts as a strong microbial, anti-cancer and antiviral agent.
  6. IMMUNITY BOOSTING YOGA

  7. 2) Mouth Face Mask For Anti Dust, Germs, Allergies, Pollution, Travel, Get Washable & Reusable Face Mask For You, Please Click Here

  8. 3) Good Health Start With Clean Hands : ORGANIC Happy Hand Sanitizer | Alcohol Free | Aloe Vera gel based | Natural and Organic | Disinfects and Cleans Get One For You Click Here

  9. 4) Hand & Face Wash to Disinfect Virus Infection from Skin, Nose,Ear,Eyes, Mouth & Hands, Get one For You , Please click Here

  10.  

Let Us Save Everybody From Dangerous Virus Attack like CORONA VIRUS. Prevention is Better Than Cure, Stay Healthy Naturally with Modern Naturopathy.

Medical staff members wearing protective clothing arrive with a patient at the Wuhan Red Cross Hospital in China on Jan. 25. HECTOR RETAMAL/AFP via Getty Images

BROWSE BY CATEGORY

Select a category to know tips & tricks to buy the best product online...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *